Taalu Kantak

लक्षण  : इस रोग में बालक के तालु में एक प्रकार की सूजन हो जाती है  । बच्चा दूध नहीं पी सकता दस्त पतले आते  है, प्यास लगती है, आँख गले एवं मुँह में पीड़ा होती है और गर्दन फूल जाती है और बमन करता है, जवर होता है कान की जड़ और नाक गर्म एवं ढीली रहती है । मलद्वार से बार बार दाना गिरता है और प्यास लगती है 

उपचार :  हरड़, बच और कुटकी पानी में पीसकर लुगदी बना कर सहद में मिलाकर माता के दूध के साथ पिलाने से तालु कंटक रोग नष्ट हो जाता  है  अनुभूत औषधि है इसमें कोई संदेह नहीं


  बच्चों के रोग

  पुरुषों के रोग

  स्त्री रोग

  पाचन तंत्र

  त्वचा के रोग

  श्वसन तंत्र के रोग

  ज्वर या बुखार

  मानसिक रोग

  कान,नाक एवं गला रोग

  तंत्रिका रोग

  मोटापा रोग

  बालों के रोग

  जोड़ एवं हड्डी रोग

  रक्त रोग

  ह्रदय रोग

  आँखों के रोग

  यौन जनित रोग

  गुर्दा रोग

  आँतों के रोग

  लिवर के रोग