arthritis disease

गठिया रोग :- गठिया रोग एक अत्यंत गंभीर एवं कष्टप्रदाक रोग है।आयुर्वेद में इसे वात रक्त रोग के नाम से जाना जाता है। इस रोग में प्यूरिन नामक प्रोटीन के मेटाबोलिज्म की विकृति का परिणाम है।गठिया रोग में यूरिक एसिड की अधिकता हो जाने से संधि शोथ एवं संधियों में सोडियम वायींयूरेट के जमा होने के विशेष लक्षण दिखाई पड़ते हैं,जो अधिकांश हाथ,पैर,अँगुलियों और सभी जोड़ों में दृष्टिगोचर होता है।यह रोग महिलाओं से ज्यादा पुरुषों को होता है।यह कई प्रकार होते हैं -एक्यूट,आस्टियो,रूमेटाइट,गाउट आदि।

लक्षण :- जोड़ों में सूजन आना,पैरों के अंगूठे में सूजन,हाथ -पैरों के जोड़ों में तेज दर्द होना,जोड़ों के आसपास लाल होना,प्रभावित हिस्से को हिलाने में परेशानी,जकड़न,आदि गठिया रोग के प्रमुख लक्षण हैं।

कारण :- यूरिक एसिड का जमा होना,वजन बढ़ जाना,मीनोपॉज के बाद,आनुवंशिक कारण,उम्र का ज्यादा होना,शराब का ज्यादा सेवन,किडनी का ठीक से काम न करना,उच्च रक्त चाप,पोषण की कमी,आयरन एवं कैल्सियम की अधिकता आदि गठिया रोग के मुख्य कारण हैं।

उपचार :- (1) जैतून के तेल का भोजन में शामिल करने से गठिया के दुष्प्रभावों से बचा जा सकता है।

              (2) अदरक स्वरस का प्रयोग प्रतिदिन काला नमक मिलकर सेवन करने से भी गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (3) बीटा क्रिप्टोक्सेंथिन युक्त खाद्य पदार्थों (गाजर)के सेवन से गठिया रोग से मुक्त हो सकते हैं।

              (4) वातरक्तांतक रस,गिलोय स्वरस एवं शहद के सेवन से गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (5) चेरी,ब्लैकबेरी,स्ट्राबेरी,अंगूर,बैगन आदि खाद्य पदार्थों के सेवन से भी गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (6) डेयरी उत्पादों,संतरे का रस,सोया दूध एवं अनाज विटामिन डी की कमी को पूरा करते हैं और गठिया रोग का नाश करता है।

              (7) ओमेगा -3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थों ( पुराने जौ,गेहूं,अनाज एवं अखरोट) के सेवन से गठिया रोग का दूर हो जाता है।

              (8) ब्रोकली,हरी फूलगोभी के नियमित प्रयोग से गठिया की बीमारी दूर हो जाती है।

              (9) सूखे अदरक का पाउडर 6 ग्राम बनाकर उसमें 6 ग्राम जीरा पाउडर एवं 3 ग्राम काली मिर्च मिलाकर आधा चम्मच ताजे जल के 

                    साथ सेवन करने से गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (10) अदरक का तेल प्रभावित हिस्से पर लगाने से गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (11) कपूर में लहसुन का रस मिलाकर लगाने से भी गठिया रोग दूर हो जाता है। 

              (12) एक -दो चम्मच मछली का तेल प्रतिदिन खाने से भी गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (13) मेथी पाउडर एक चम्मच ताजे जल के साथ सेवन करने से गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (14) हल्दी पाउडर गुनगुने दूध में मिलाकर पीने से गठिया रोग दूर हो जाता है।

              (15) नीम के तेल में प्याज का रस मिलाकर मालिश करने से भी गठिया रोग दूर हो जाता है। 

              (16) दालचीनी पाउडर में शहद मिलाकर लगाने से गठिया रोग दूर हो जाता है। 


  बच्चों के रोग

  पुरुषों के रोग

  स्त्री रोग

  पाचन तंत्र

  त्वचा के रोग

  श्वसन तंत्र के रोग

  ज्वर या बुखार

  मानसिक रोग

  कान,नाक एवं गला रोग

  तंत्रिका रोग

  मोटापा रोग

  बालों के रोग

  जोड़ एवं हड्डी रोग

  रक्त रोग

  ह्रदय रोग

  आँखों के रोग

  यौन जनित रोग

  गुर्दा रोग

  आँतों के रोग

  लिवर के रोग