loose of vagina

योनि का ढीलापन :- योनि का ढीलापन एक आम समस्या है ,जो बच्चों को जन्म देने या सेक्स में अधिक लिप्त रहने के कारण आता है।वास्तव में मानव शरीर प्रकृति द्वारा प्रदत्त स्त्री व पुरुष दोनों के लिए एक अनुपम भेंट है।फिर अगर हम सेक्स अंगों की बात करें तो प्राकृतिक रूप में अत्यधिक आनंद देने वाला होता है।योनि स्त्री का एक अद्भुत एवं प्रमुख आकर्षक अंग है और सम्भोग के दौरान प्राकृतिक रूप से स्त्री एवं पुरुष दोनों जो अद्भुत आनंद की प्राप्ति होती है,उसमें योनि का विशेष योगदान है।किन्तु संतानोत्पत्ति के पश्चात उनमें ढीलापन आ जाने से सम्भोग के दौरान आनंद में कमी आ जाती है।योनि में ढीलापन योनि की तंतुओं में ढीलापन आ जाना की वजह से होता है।

लक्षण :- योनि का फ़ैल जाना,योनि के दीवारों की तंतुओं का ढीला हो जाना,योनि के तंतुओं में कसाव कम हो जाना,सम्भोग के समय आनंद में कमी,योनि में कसाव कम हो जाना,सम्भोग करते समय लिंग का योनि की दीवारों से घर्षण कम होना आदि योनि के ढीलापन के प्रमुख लक्षण हैं।

कारण :- शारीरिक दुर्बलता,अप्राकृतिक सम्भोग,प्रसव,सेक्स के विभिन्न आसनों का प्रयोग,अश्लील फिल्में देखकर सम्भोग करना,योनि स्राव में अधिकता,योनि की दीवारों के तंतुओं का ढीला हो जाना आदि योनि के ढीलापन के मुख्य कारण हैं।

उपचार :- (1) फिटकरी को पानी में घोलकर उस पानी से योनि को धोने से कुछ ही दिनों में योनि में कसाव आ जाता है और उसका ढीलापन 

                   दूर हो जाता है।

(2) फिटकरी,दालचीनी,जायफल समान भाग लेकर पीसकर चूर्ण बनाकर प्रतिदिन रात में सोते समय योनि पर लगाकर सोने से कुछ ही दिनों           

     में योनि का ढीलापन ठीक हो जाता है।

(3) दो तीन ग्राम सुपारी पाक गुनगुने दूध के साथ सेवन करने से योनि का ढीलापन ठीक हो जाता है।

(4) शहद,कपूर और माजूफल के साथ मिलाकर प्रतिदिन योनि की मालिश करने से योनि का ढीलापन दूर हो जाता है। 

(5) पालक के बीज,गूलर के फल को शहद एवं तिल के तेल के साथ पीसकर पेस्ट बनाकर योनि पर लेप करने से योनि का ढीलापन ठीक हो 

      जाता है।

(6) आंवला के पेड़ की छाल रात में पानी में भिगोकर रखें और सुबह उस पानी से योनि को धोने से योनि का ढीलापन ठीक हो जाता है।

(7) मलमल के कपडे में भांग रखकर एक पोटली बनाकर योनि के अंदर रात में रख दें और सुबह निकाल दें।ऐसा कुछ दिनोतक तक करने से 

     योनि एकदम कुंवारी लड़की की तरह हो जाती है।

(8) बेंट के जड़ के काढ़े से योनि को धोने से योनि का ढीलापन दूर हो जाता है।a(9) अशोक के वृक्ष की छाल के काढ़े से योनि को धोने से योनि का ढीलापन दूर हो जाता है।

(10) चार ग्राम काले तिल का पाउडर,आठ ग्राम गोखरू का चूर्ण,सोलह ग्राम शहद मिलाकर एक गिलास दूध के साथ प्रतिदिन सेवन करने से योनि का ढीलापन दूर होकर संकुचित हो जाता है।

(11) एलोवेरा के सेवन से योनि की दीवारों में संकुचन पैदा होने से योनि का ढीलापन ठीक हो जाता है।

(12) पलाश के वृक्ष की छाल के काढ़े से योनि को धोने से योनि का ढीलापन दूर हो जाता है।


  बच्चों के रोग

  पुरुषों के रोग

  स्त्री रोग

  पाचन तंत्र

  त्वचा के रोग

  श्वसन तंत्र के रोग

  ज्वर या बुखार

  मानसिक रोग

  कान,नाक एवं गला रोग

  तंत्रिका रोग

  मोटापा रोग

  बालों के रोग

  जोड़ एवं हड्डी रोग

  रक्त रोग

  ह्रदय रोग

  आँखों के रोग

  यौन जनित रोग

  गुर्दा रोग

  आँतों के रोग

  लिवर के रोग