nephritis disease

किडनी की सूजन रोग :- किडनी की सूजन एक गंभीर बीमारी की प्रारंभिक अवस्था है,जो किडनी में स्थित फ़िल्टर की रक्त कोशिकाओं में सूजन की वजह से होता है।इसका उपचार न होने की स्थिति में भयावह परिणाम होने की ज्यादा सम्भावना हो सकती है एवं ज्यादा दिनों तक उपचार नहीं करने पर किडनी पूर्णरूपेण कार्य करना बंद कर देता है।किडनी का पूर्णरूप से कार्य न कर पाने की स्थिति में या यूँ कहें खून का फ़िल्टर न होने से शरीर में विजातीय तत्त्वों का जमाव व्यक्ति के लिए जानलेवा साबित हो जाता है।वास्तव में किडनी का मुख्य कार्य शरीर से विषाक्त एवं अपशिष्ट पदार्थों को निकालना होता है।

लक्षण :- चेहरे पर सूजन,पैरों में सूजन,पेशाब का रंग भूरा हो जाना,पेशाब में प्रोटीन की मात्रा बढ़ जाना,पेशाब में रक्त आना,मूत्र में झाग आना,पेशाब कम होना,फेफड़े में तरल द्रव्यों का जमाव हो जाना,खांसी,साँस लेने में परेशानी,गले में खराश होना,त्वचा में संक्रमण के लक्षण दिखाई देना,उच्च रक्तचाप,अपच,कमजोरी,बुखार,उल्टी आदि किडनी की सूजन के प्रमुख लक्षण हैं।

कारण :- प्रतिरक्षा शक्तियों का कम हो जाना,मधुमेह,दर्द निवारक दवाओं का कुप्रभाव,एंटीबायोटिक दवाओं का अधिक प्रयोग,आनुवंशिक,शराब का अत्यधिक प्रयोग,धूम्रपान का ज्यादा प्रयोग आदि किडनी की सूजन के मुख्य कारण हैं।

उपचार :- (1) प्रतिदिन एक चम्मच हल्दी,तुलसी के पत्ते,अदरक ताजे जल में डालकर उबालें और कुछ देर बाद छानकर पीने से किडनी की सूजन रोग में बहुत फायदा होता है।

(2) सेब के सिरके की चार - पांच बूंदें जल में डालकर सुबह शाम पीने से किडनी की सूजन दूर हो जाती है।

(3) पुनर्नवा की साग और रस के प्रतिदिन सेवन करने से किडनी की सूजन एवं अन्य रोग दूर हो जाती है।

(4) अदरक और तुलसी के पत्ती की चाय पीने से किडनी की सूजन दूर हो जाती है।

(5) एक चम्मच अजवाइन को एक गिलास पानी में डालकर उबालें और जब एक चौथाई शेष रहे तो छानकर पीने से किडनी की सूजन दूर हो जाती है।

(6) अंगूर के रस के सेवन से भी किडनी की सूजन ठीक हो जाती है।

(7) पानी प्रतिदिन चार पांच लीटर पीने से किडनी की सूजन ठीक हो जाती है।

(8) स्ट्राबेरी,रसभरी,जामुन एवं करोंदे के सेवन से भी किडनी की सूजन दूर हो जाती है।


  बच्चों के रोग

  पुरुषों के रोग

  स्त्री रोग

  पाचन तंत्र

  त्वचा के रोग

  श्वसन तंत्र के रोग

  ज्वर या बुखार

  मानसिक रोग

  कान,नाक एवं गला रोग

  सिर के रोग

  तंत्रिका रोग

  मोटापा रोग

  बालों के रोग

  जोड़ एवं हड्डी रोग

  रक्त रोग

  मांसपेशियों का रोग

  संक्रामक रोग

  मुँह ,दांत के रोग

  मूत्र तंत्र के रोग

  ह्रदय रोग

  आँखों के रोग

  यौन जनित रोग

  गुर्दा रोग

  आँतों के रोग

  लिवर के रोग