drug allergy disease

ड्रग एलर्जी रोग : - ड्रग एलर्जी एक अत्यंत गंभीर रोग है,जो इलाज,रोकथाम या जाँच के लिए खाई जाने वाली औषधि के प्रति शरीर द्वारा अनअपेक्षित प्रतिक्रिया होती है। दूसरे शब्दों में यूँ कहे किऔषधियों की प्रतिकूल प्रतिक्रिया को ही ड्रग एलर्जी कहा जाता है। कभी - कभी यह एलर्जी इतना घातक होता है कि साँस लेने में दिक्कत होने लगती है और जानलेवा सिद्ध होती है। ड्रग एलर्जी से बचने के लिए हमें किन दवाओं से एलर्जी होती है,इसके बारे में चिकित्सक को अवगत करा देना चाहिए,ताकि हम इसके दुष्परिणाम से बचे रह सकें। 

एलर्जी कई प्रकार के होते है ;जैसे - ड्रग एलर्जी,एटॉपिक डर्मेटाइटिस एलर्जी,मौसमी वातावरणिक एलर्जी,अस्थमैटिक एलर्जी,फंगल से होने वाली एलर्जी आदि। 

लक्षण : - खुजली,जी मिचलाना,सुस्ती,सिरदर्द,त्वचा पर चकत्ते,पित्ती,आँखों में खुजली एवं पानी आना,सूजन,साँस लेने में दिक्कत,बुखार,घरघराहट एवं खांसी,चक्कर,होंठ का नीला पड़ जाना,गले और मुख में सूजन,पानी पीने में परेशानी, आदि ड्रग एलर्जी के प्रमुख लक्षण हैं। 

कारण : - शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता द्वारा ड्रग को हानिकारक पदार्थ समझ लेना और प्रतिक्रिया स्वरुप प्रतिरोधक क्षमता बनाना,थायरॉइड की दवाएं लेना,पेनिसिलिन दवाएं लेना,वायरस संक्रमण या एच आई वी एड्स आदि ड्रग एलर्जी के मुख्य कारण हैं। 

उपचार : - (1) एक चम्मच गिलोय स्वरस,दो चम्मच आंवला स्वरस एवं एक चम्मच शहद मिलाकर सुबह - शाम खाली पेट कुछ दिनों तक लगातार सेवन करने से ड्रग एलर्जी दूर हो जाता है। 

(2) सितोपलादि पाउडर एवं गिलोय पाउडर एक - एक चम्मच की मात्रा लेकर उसमें शहद मिलाकर कुछ दिनों तक लगातार खाली पेट सेवन करने से ड्रग एलर्जी से होने वाले श्वसन तंत्र की परेशानी दूर हो जाती है। 

(3) हरिद्रा (हल्दी ) पाउडर के दूध या ताजे जल के साथ के सेवन से भी ड्रग एलर्जी दूर हो जाती है।  

(4) सुबह खली पेट नीम की कोंपलें दो -तीन लाली मिर्च के साथ प्रतिदिन खाने से ड्रग एलर्जी ठीक हो जाती है।  

(5) गुलाब जल में ग्लिसरीन मिलाकर लगाने से ड्रग एलर्जी से उत्त्पन्न त्वचा पर चकत्ते,पित्ती आदि ठीक हो जाता है। 

(6) गाजर,चुकुन्दर एवं खीरे के रस का जूस पीने से भी ड्रग एलर्जी दूर होती है। 

(7) नारियल तेल में कपूर मिलाकर प्रभावित स्थानों पर लगाने से भी ड्रग एलर्जी से होने वाले त्वचा पर होने वाले विकार दूर हो जाते हैं। 

(8) फलों के रस के साथ एरंड तेल की चार - पांच बूंदें मिलाकर पीने से भी एलर्जी दूर हो जाती हैं। 

(9) ड्रग एलर्जी से होने वाले त्वचा विकार में त्रिकटु,तुलसी,कपूर,इलायची,लौंग एवं धनिया को बराबर मात्रा में मिलाकर पाउडर बना लें और दिन में तीन बार गुनगुने जल के साथ सेवन करने से एलर्जी दूर हो जाती है। 

(10) सेब के सिरके की कुछ बूंदें जल में मिलाकर सेवन करने से भी ड्रग एलर्जी दूर हो जाती हैं। 

आसान एवं प्राणायाम : - अनुलोम - विलोम,भस्त्रिका,कपालभाति,कुंजल क्रिया,जलनेति आदि।  


  बच्चों के रोग

  पुरुषों के रोग

  स्त्री रोग

  पाचन तंत्र

  त्वचा के रोग

  श्वसन तंत्र के रोग

  ज्वर या बुखार

  मानसिक रोग

  कान,नाक एवं गला रोग

  सिर के रोग

  तंत्रिका रोग

  मोटापा रोग

  बालों के रोग

  जोड़ एवं हड्डी रोग

  रक्त रोग

  मांसपेशियों का रोग

  संक्रामक रोग

  नसों या वेन्स के रोग

  एलर्जी रोग

  मुँह ,दांत के रोग

  मूत्र तंत्र के रोग

  ह्रदय रोग

  आँखों के रोग

  यौन जनित रोग

  गुर्दा रोग

  आँतों के रोग

  लिवर के रोग