presbyopia disease

जरा दूरदृष्टितारोग : - जरा दूरदृष्टिता रोग आँखों की एक गंभीर समस्या है ,जो आयु में वृद्धि के साथ आँखों की सामंजस्य क्षमता में कमी आ जाने के कारण होती है। इस रोग से पीड़ित व्यक्ति अपने पास रखी वस्तुओं को स्पष्ट रूप से देख पाने में असमर्थ रहता है यानि स्पष्ट रूप से नहीं देख पाता है। वास्तव में जरा दूरदृष्टिता से पीड़ित व्यक्ति के आँखों में स्थित पक्ष्माभी पेशियों का समय के कालक्रम के साथ धीरे - धीरे कमजोर हो जाना इस बीमारी का मुख्य कारण है। पक्ष्माभी पेशियों में कमजोरी आ जाने से पीड़ित व्यक्ति के नेत्र का निकट बिंदु दूर हट जाता है और आँखों की अभिनेत्र लेंस की जो सामंजस्य क्षमता होती है उसमें कमी आ जाती है। परिणामस्वरूप जरा दूरदृष्टिता रोग से ग्रस्त व्यक्ति पास की वस्तु को स्पष्ट रूप से नहीं देख पाता है। 

लक्षण : - नेत्र के लेंस में कठोरता का आ जाना, दूर एवं पास की वस्तुओं को स्पष्ट रूप से देख नहीं पाना,धुंधला दिखाई देना आदि जरा दूरदृष्टिता रोग के प्रमुख कारण हैं। 

कारण : - उम्र में वृद्धि,मांसपेशियों का कमजोर हो जाना,नेत्र के लेंस का लचीलापन कम हो जाना आदि जरा दूरदृष्टिता रोग के मुख्य कारण हैं। 

उपचार : - (1) काली मिर्च चूर्ण घी एवं बूरा के साथ प्रतिदिन सेवन करने से जरा दूरदृष्टिता रोग दूर हो जाता है। 

(2) गाजर के जूस में नीम्बू का रस मिलाकर प्रतिदिन पीने से जरा दूरदृष्टिता रोग कुछ ही दिनों में ठीक हो जाता है। 

(3) धनिया का रस निकालकर प्रतिदिन सुबह - शाम आँखों में एक - दो बून्द डालकर कुछ देर आँखों को बंद रखने से जरा दूरदृष्टिता रोग दूर हो जाता है।

(4) आंवला जूस प्रतिदिन घर में निकालकर उसमें एक चम्मच शहद डालकर सेवन करने से जरा दूरदृष्टिता रोग ठीक हो जाता है। 

(5) सोंफ,बादाम गिरी और मिश्री समान भाग लेकर कूट पीस कर चूर्ण बना लें और प्रतिदिन सुबह शाम दो चम्मच 250 मिलीलीटर गुनगुने  दूध  के साथ सेवन करने से जरा दूरदृष्टिता रोग ठीक हो जाता है। 

(6) सूखे मेवे का प्रतिदिन सेवन करने से भी जरा दूरदृष्टिता रोग दूर हो जाता है। 


  बच्चों के रोग

  पुरुषों के रोग

  स्त्री रोग

  पाचन तंत्र

  त्वचा के रोग

  श्वसन तंत्र के रोग

  ज्वर या बुखार

  मानसिक रोग

  कान,नाक एवं गला रोग

  सिर के रोग

  तंत्रिका रोग

  मोटापा रोग

  बालों के रोग

  जोड़ एवं हड्डी रोग

  रक्त रोग

  मांसपेशियों का रोग

  संक्रामक रोग

  मूत्र तंत्र के रोग

  ह्रदय रोग

  आँखों के रोग

  यौन जनित रोग

  गुर्दा रोग

  आँतों के रोग

  लिवर के रोग